January 2016

खाने में कोई महत्व नहीं पचाना महत्व है ! क्योकि भोजन पचेगा तो रस बनेगा उसी रस से 

  1. मास 
  2. रक्त 
  3. मल
  4. मूत्र 
  5. वीर्य........  ये सब बनेगी ! और  ये आपके शरीर के लिए आगे काम आयेंगे                                                           चलिए मै बताता हूँ पानी  कब और कैसे पिए...........                                                                                       

भोजन के अंत में पानी  पीना विस पिने के बराबर है ! भोजन के तुरन्त बाद पानी पीने से गैस जल में घुलने से अन्न का पाचन होने में कठिनाई होती है।

जिससे अम्ल पित्त होता है। अम्लपित्त acidity  ही रोगों की जड़ है। इसलिये भोजन के तुरन्त बाद पानी न ले                                                                                                                                                                                                                                                                                प्रातःकाल सवा लीटर पानी पिये..इससे कई बीमारियां ठीक हो जायेगे

जैसे-

  1. सिरदर्द
  2. रक्तचाप (ब्लडप्रेशर)
  3. पाण्डु (जॉण्डिस, पीलिया)
  4. आमवात चर्बी बढ़ना
  5. संधिवात 
  6. नाक की हड्डी बढ़ने से जुकाम रहना, 
  7. नाड़ी की धड़कन बढ़ना
  8.  दमा
  9.  खॉंसी
  10.  पुरानी खॉंसी
  11.  यकृत (लीवर) के रोग
  12.  गैस
  13. अम्ल पित्त (एसीडिटी)
  14.  अल्सर
  15.  मलावरोध
  16.  अन्न नलिका में अंदर से सूजन
  17.  गुदा बाहर आना
  18.  अर्शरोग (बवासीर, पाइल्स)
  19.  मधुमेह (डायबिटीज)
  20. आमातिसार
  21.  क्षयरोग (टी.बी.)
  22.  पेशाब की बीमारियॉं 
  23.  आँखों की बीमारी 
  24.  गले के विकार तथा महिलाओं के अनियमित मासिक धर्म (माहवारी)
  25. श्वेत प्रदर (ल्यूकोरिया) गर्भाशय का कर्कट रोग (कैंसर)

Bournvita,horlicks के विज्ञापनों के चलते माताओं के मन में यह बैठ जाता है ! बच्चो को ये सब डाल के दो कप ढूढ पिला दिया। ..बस हो गया नहीं......  




चाहे बच्चे दूध पसंद करे ना करे  माँ अपने बचे को किसी तरह ये पिला के ही दम लेती है .....
अक्सर ऐसा होता है। ...की पिने के बाद भी असर नहीं होते 
जैसे.. 
  1. केल्सियम की कमी
  2. लम्बाई न बढ़ना.........समस्याएँ देखने में आती है

चलिए मै आपको ऐसे तरीके बताऊंगा आप हैरान हो जायेगे........


आयुर्वेद के अनुसार  दूध पिने का तरीका 

  1. आप सुबह सिर्फ काढ़े के साथ दूध ले 
  2. दोपहर मे छाछ पीना चाहिए दही की प्रकृति गर्म होती है !
  3. सोने से पहले रात में दूध...... बिना शकर के पीना चाहिए पर 

केल्सियम लेने के तरीके 
जब बच्चे भोजन लेना सुरु कर दे 

जैसे 
  1. रोटी 
  2. चावल 
  3. सब्जिया तब गेहू और चावल में मौजूद केल्सियम मिलने लगते है! अब केल्सियम के लिए आप दूध पर नर्भर नहीं......

आप नींबू को हर मौसम में सेवन कर सकते है !
नींबू का मुख्य कार्य शरीर के विर्सो को नस्ट कर उन्हें बहार निकालना है ! यह मुंह के स्वाद को ठीक करके भोजन के प्रति रूचि पैदा करता है ! रक्त सुध और त्वचा देता है !सब्जी बनाते समय नीबू ना डाले जब सब्जी बन जाये तो तब डाले नींबू  





नींबू में citric acid(अम्ल) होने पर भी पेट में इसका नुकसान नहीं होता है! नींबू पेट में क्षार की उत्पत्ति करता है !जो अच्छे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। 
नींबू में पाये जाने वाले फॉस्फोरस शरीर में नए तंतुओ का विकास में  सहायक होते है ! 
प्रातः एक गिलाश पानी में नींबू निचोड़ कर एक चम्मच अदरक का रस डालकर रोज पिने से शरीर सुध  
और आप निरोग रहेगे !


फायदे 



  1. नेत्र ज्योति तेज होती है !
  2. मानसिक दुर्बलता 
  3. सिरदर्द  टेंडन में झटके लगना बन्द हो जाते हैं

लम्बे समय तक  उपवास रखने के बाद खाना नही दिया जाता पर पानी में नीबू मिलाकर बार बार पिने से रोगी के शरीर से दुसित पदार्थ निकल जाते है और रोग दूर हो जाते है !


घोटाले की सारी हदें पार कर दी लेकिन फिर भी खुद को पाक साफ बता रहे हैं। यकीं नहीं तो स्वयं ही पढ़िये!!!

यूपीए-2 एक बार फिर से बड़े घोटाले की चपेट में घिरती नजर आज रही है। ताजा घोटाला कैग की रिपोर्ट में सामने आया है जिसमें मनमोहन सरकार पर 40 हजार करोड़ रुपए के धान घाटाले का मामला सामने आया है।

नहीं दिया किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य:-

कैग रिपोर्ट में यह बात निकलकर सामने आयी है कि सरकार ने धान खरीद की प्रणाली में हेराफेरी की गयी है। कैग रिपोर्ट में किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का भुगतान सीधे उन्हें किये जाने का सरकार पर आरोप है। धान की खरीद सहित उसकी ढुलाई सहित कई अन्य प्रक्रियाओं में 40564 करोड़ रुपए की अनियमितता की बात कैग रिपोर्ट में सामने आयी है। यही नहीं इन अनियमितताओं के चलते सरकार को सब्सिडी का लाभ हुआ।




विलंब होने पर भी नहीं लिया गया विलंब शुल्क:-

अनियमितताओं का दौर यही नहीं थमा वर्ष 2009-10, 2012-13 और 2013-14 की अवधि में मिल मालिकों से धान की डिलिवरी में हुई देरी का ब्याज भी नहीं वसूला गया जिसकी वजह से 159 करोड़ रुपये लाभ मिल मालिकों को हुआ। बिहार, हरियाणा, ओडिशा, पंजाब, उत्‍तर प्रदेश और तेलंगाना में 7,570 करोड़ रुपये का चावल भी सरकारी संस्थाओं को नहीं दिया गया जिस वजह से सरकार को काफी नुकसान उठाना पड़ा।


खेत से खरीदे गये धान पर भी दिया गया मंडी लेबर चार्ज:-

नियमों के अनुसान सीधे खेत से खरीदे गये धान पर मंडी लेबर चार्च नहीं दिया जाता है लेकिन केंद्र सरकार ने मिल मालिकों को यह लेबर चार्ज भी दे दिया। इस हेराफेरी के चलते मिल मालिकों को 194 करोड़ रुपये तक का मुनाफा हुआ।


घटिया चावल की खरीद ने पहुंचाया करोड़ों का नुकसान:-

पंजाब में 2010-11, 2013-14 में 82 टन धान की की घटिया गुणवत्ता खरीद के चलते सरकार को 9788 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ा। सरकार ने घटिया धान का भी पूरा भुगतान किया।


मिल मालिकों को हुआ करोड़ों का फायदा:-

धान की मिलिंग के खर्च में काफी बदलाव हुआ लेकिन इस सरकार ने नही अपनाया जिसके चलते मिल मालिकों को काफी लाभ हुआ। जिसके चलते 5 हजार करोड़ रुपए की अनियमितता सामने आयी।
जिन किसानों को मिला एमएसपी प्राइज, नहीं है जानकारी
यही नहीं आंध्र प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, तेलंगाना और उत्‍तर प्रदेश में भी 17,985 करोड़ रुपये के घोटाले की बात सामने आयी है। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य इन राज्यों में नहीं दिया गया। साथ ही जिन किसानों को को यह भुगतान किया गया उनके बैंक खातों की जानकारी भी उपलब्ध नहीं है।

पालीगंज में ठण्ड  4.8 डिग्री.....बढ़ी  मौसम विभाग के अधिकारियों के अनुसार जो सामान्य से 4 डिग्री सेल्सियस के आसपास, 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया पालीगंज गया और भागलपुर में क्रमश: 6.0 और 6.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया ! 




सबसे कम तापमान दर्ज किया गया। "अधिकतम तापमान लगभग 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जाना जारी रहेगा हालांकि, कम से कम अगले कुछ दिनों में लगभग 5.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया होगा," एक स्थानीय मौसम विभाग के अधिकारी ने कहा। न्यूनतम तापमान में कम से कम तीन दिनों के बाद वृद्धि की संभावना है।



माननीय सांसद सह केन्द्रीय राज्य मंत्री श्री रामकृपाल यादव जी ने कल पालीगंज के एसडीओ के साथ बैठक कर जन समस्याओं के निराकरण के लिए निर्देश दिए। अतिक्रमण हटाने के साथ साथ सड़क  सें कचरा हटाने काम जल्द हि सुरु कर  दिया जाएगा  नलियो के निर्माण के  साथ  ही और भी कई काम होंगे 





साथ ही तालाबों उड़ाही और पक्कीकरण का भी काम भी कराया जाएगा माननीय सांसद सह केन्द्रीय राज्य मंत्री श्री रामकृपाल यादव जी ने अस्वासन दिया है...मॉडल अनुमंडल के रूप में बिकसित किया जाएगा पालीगंज को नगरवासियो ने मंत्री से कहा है की पानी बिजली जैसी बुनियादी समस्याओं कार्य करने की जरूरत है लोगो ने पालीगंज - चन्दोस एसएच 69 पोल का काम सुरु करना चाहिए .......

पालीगंज अनुमंडल कि विकास कि गति विकास के वाहक अनुमंडल और प्रखंड के पदाधिकारियों जिनके 
कंधो पर इस क्षेत्र के आम लोगों कि समस्याएँ और उसकी निदान के साथ विकाश कि गति को निर्बाध रूप से करने कि बड़ी जिम्मेदारी है ! उन्हे पता ही नहीँ उनकी क्या जिम्मेवारी है और कौन सा काम कब और कैसे करना है ! कब किस चीज कि बैठक कौन विभाग कि होगी और कौन कौन से लोग आमंत्रित होंगे ? वो लोग भला कैसे इस क्षेत्र को विकास योजनाएँ को सुचारु रूप से सफल कैसे लागू कर पाते होंगे ?


इसका ताजा उदाहरण है ! बुधवार को प्रखंड कार्यालय के सभागार मॆ शायद आखरी बीडीसी कि बैठक मॆ बीडीओ ने स्थानीय विधायक को ही सूचना न देना जबकि परम्परा रहीं है कि हर बैठक मॆ विधायक को विशेष आमंत्रण दिया जाता है ! इसी मुद्दे को लेकर कई सदस्यों ने आपति जताते हुए यहा कदम को साजिश के तौर पर उन्हें जान बुझ कर अपमानित करने वाला कदम बताया !

इस मुददे के साथ साथ,
किसानों कि धान खरीदी मॆ बिना कमीशन दिए enforcement लिस्ट नहीँ बनने ,आंगनबाड़ी केन्द्र नहीँ बनाने ,बैन्क के द्वारा वृध्दिा पेंशन के लिए खाते नहीँ खोलने जैसे सभी मुद्दो पर मुखियाओं व समिति सदस्यों ने जोरदार हंगामे के कारण होने के साथ ही सदन इस हंगामे के भेंट चड़ गया ?और कोइ योजनाएँ हंगामे के कारण पास नहीँ हुए ! जो आम लोगों के लिए हितकारी होता !
बही दूसरी उदाहरण को देखी विगत 19 तरीक को हमारे और माननीय विधायक जी पहल पर रोगॊ कल्याण समिति कि बैठक आयोजित किया गया था !इसके पहेले कब इसकी बैठक हुई थी एसडीओ महोदय को जानकारी ही नहीँ थी ! या यूँ कहे उन्हें यहा भी पता नहीँ था कि वो जबकि अनुमंडल अस्पताल के पदेन अध्यक्ष है !

पालीगंज में पोस्ट ऑफिस के पास की सडकों की स्थिति, इन गड्ढे में इंट भरने के नाम पर कइ बार पैसे डकारे जा चुके हैं, लेकिन व्यवस्था नहीं बदल रही। कभी भी दुर्घटना हो सकती है।





This video shows the top 5 future technological inventions and creations which are expected to be available in between 2019 to 2050 A.D.
These are the next generation inventions.The future gadgets are of new era.They are amazing than ever.Have a look at these awesome future technologies.The top five upcoming future inventions are:

5.Cicret Bracelet
4.I Watch
3.Wall-Format Display Glass
2.Smart CARD
1.Smart Newspaper



केंद्रीय राज्य मन्त्री रामकृपाल यादव ने अपने पाटलीपुत्र संसदीय क्षेत्र के उग्रवाद प्रभावित पालीगंज अनुमंडल क्षेत्र के दौरों पर केंद्रीय विकास योजनाओं के साथ साथ आम जनता समस्याएँ को सुनने व उनकी समस्याओं की यथा शीघ्र जल्द निदान करने के आश्वसन दिया व साथ हि कार्य प्रगति की लोगों से प्रगति की जानकारी विस्तॄत रूप से लिया !
वही ऐतिहासिक समदा मवेशी मेले उद्घाटन किया व भ्रमण करते कहा की समदा ,सोनपुर मेले के साथ राज्य के सभी मेला की गिरती स्तर पर गहरी चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा की राज्य सरकार को इसकी प्रोत्साहन के लिए प्रयास करने चहिए ताकि जिससे इसकी फीर से सभी मेलों की पुरानी गौरव हासिल हो सके !
बही पटना के स्वर्ण व्यवसाई की हत्या के साथ साथ अपने संसदीय क्षेत्र आया डी बेतहाशा घट रहि अपराधी घटनाएँ पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा की अपराधी अब सरकार से बेखौफ हो गाय ह्य उनके मन से कानून का भय समाप्त हो गया और आम लोगों के बीच अपराधियों का खौफ व भय उनके मन मॆ व्यापत हो गया है !राज्ये सरकार पुरी तरह से अपराधियों पर अंकुश लगाने मॆ विफल रह रही है  !इस अवसर पर पूर्व विधायक रामजनम शर्मा ,भाजपा के वरिष्ट नेट व समाजिक कार्यकर्ता ब्रिजा यादव ,शशिकांत आर्या ,एसडीओ विनोद सिंह समेत कई  सनजीक   व राजनीतिक कार्यकर्ता उपस्थित थे !


‪‎पालीगंज‬ अनुमंडल क्षेत्र भी हत्या ,छेडखानी ,बल्लातकार ,चोरी ,डकैती ,हर दूसरे दिन छोटी -बडी वाहनों की इस क्षेत्र मॆ सालो से सक्रिय दर्जनों शातिर लुटेरे दिनदहाड़े लूटकर बडी आसानी से फरार हो दूसरे जिलों मॆ पार कर लुटेरे आराम से सरेयाम घूमती देखे जाते है !

आजकल यह क्षेत्र को अपराधियों ने इसे अपने आगोश मॆ ले लिया है ! दिन प्रति दिन अपराध घटने के बजाय बेतहाशा बढ़ती ही जा रहि है !और जिला प्रशासन अपराध को रोकने के बजाय मूक दर्शक बन अनुमंडल प्रशासन पर करवाई करने के बजाए तमाशा बीन बन देखने के सियाव कूछ कर नही पा रही है !जबकि घट रही घटनाएँ की जानकारी हर घटना की पीडिता के साथ साथ हमलोगों भी ssp और dig हर घटना की जानकारी डे रहे है परन्तु जिला प्रशासन कान मॆ तेल डालकर सोई है !






उधर रोम जल रहा था और चैन की बंसी बजा रहा था ठीक वही स्थिति आजकल पालीगंजा अनुमंडल की हो गई है !सबकुछ भगवान भरोसे चल रहा है ?
जिसका जीता जागता उदहारण है अनुमंडल पुलिस के विरोध मॆ कल हैबसपुर के युवक विकास कुमार को ससुराल वालो ने अपने घर विकास को उसके साले ने एक दिन पहले ले गया और वहा पर गुरुवार की रात जहर देकर ससुराल वालो हत्या कर दिया गया !युवक विकाश के पिता ने रामकलेश सिंह ने डिगोडि थाने मॆ पत्नी चंदनी देवी ,ससुर सुरेश सिंह सास और साले समेत चार लोगों के ऊपर जहर देकर हत्या करने के लीए नामजद अभियुक बनाया था !





उधर ईद घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा अपराधियों को नही पकड़ने व उल्टे इस घटना मॆ अपराधियों गिरफ्तारी करने के बजाय उल्टे उन्हे संरक्षित करने आरोप लगाते हुए आक्रोशित परिजनों ने आंदोलन पर उतरते हुए पुलिस के विरुद्ध बिगुल फुंकते हुए सैंकङो महिलाएँ व पुरुषों ने पाली -किंजर -जहानाबाद सड़क को कई घंटे जाम कर पुलिस के विरुद्ध अपराधियों को तत्काल गिरफ्तारी करने लिए उग्र प्रदर्शन कर पुलिस के विरोध मॆ जमकर नारे लगाए ! बही पुलिस सड़क जाम छुड़ाने के लिए घंटों बाद पहुँच कर उग्र लोगों को अपराधियों को गिरफ्तारी के आश्वासन के बाद जाम हटवाई !लेकिन इस बीच आम आदमी जाम की वजह से घंटों बेवजह फंसे रहे ?काश अगर पुलिस अपराधियों के धर पकड़ के लिए ईमानदारी पूर्वक प्रयास पीडिता पक्ष को विश्वास मॆ लेते हुए उचित कारवाई करती तो शायद सड़क जाम नही होती सुर इसके चलते सैंकङो बेकसूर आम लोगों को घंटों जाम मॆ फंसने से परेशानियों का सामना नही करना पड़ता !


इनसब घटनाएँ पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव ने पालीगंज अनुमंडल के साथ पुरे बिहार पर नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए ङ्क्षसह यह तो छोटी घटनाएँ है बिहार मॆ जंगल राज्य की वापसी हो गई है !दोनो नेताओं ने मुख्यमंत्री से तत्काल इसपर रोक लगाने की माँग किया !सुशासन बाबू सुशासन लागू कर जनता को दिखाए !
जिसका जीता जागता उदहारण है अनुमंडल पुलिस के विरोध मॆ कल हैबसपुर के युवक विकास कुमार को ससुराल वालो ने अपने घर विकास को उसके साले ने एक दिन पहले ले गया और वहा पर गुरुवार की रात जहर देकर ससुराल वालो हत्या कर दिया गया !युवक विकाश के पिता ने रामकलेश सिंह ने डिगोडि थाने मॆ पत्नी चंदनी देवी ,ससुर सुरेश सिंह सास और साले समेत चार लोगों के ऊपर जहर देकर हत्या करने के लीए नामजद अभियुक बनाया था !

उधर ईद घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा अपराधियों को नही पकड़ने व उल्टे इस घटना मॆ अपराधियों गिरफ्तारी करने के बजाय उल्टे उन्हे संरक्षित करने आरोप लगाते हुए आक्रोशित परिजनों ने आंदोलन पर उतरते हुए पुलिस के विरुद्ध बिगुल फुंकते हुए सैंकङो महिलाएँ व पुरुषों ने पाली -किंजर -जहानाबाद सड़क को कई घंटे जाम कर पुलिस के विरुद्ध अपराधियों को तत्काल गिरफ्तारी करने लिए उग्र प्रदर्शन कर पुलिस के विरोध मॆ जमकर नारे लगाए ! बही पुलिस सड़क जाम छुड़ाने के लिए घंटों बाद पहुँच कर उग्र लोगों को अपराधियों को गिरफ्तारी के आश्वासन के बाद जाम हटवाई !लेकिन इस बीच आम आदमी जाम की वजह से घंटों बेवजह फंसे रहे ?काश अगर पुलिस अपराधियों के धर पकड़ के लिए ईमानदारी पूर्वक प्रयास पीडिता पक्ष को विश्वास मॆ लेते हुए उचित कारवाई करती तो शायद सड़क जाम नही होती सुर इसके चलते सैंकङो बेकसूर आम लोगों को घंटों जाम मॆ फंसने से परेशानियों का सामना नही करना पड़ता !

इनसब घटनाएँ पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव ने पालीगंज अनुमंडल के साथ पुरे बिहार पर नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए ङ्क्षसह यह तो छोटी घटनाएँ है बिहार मॆ जंगल राज्य की वापसी हो गई है !दोनो नेताओं ने मुख्यमंत्री से तत्काल इसपर रोक लगाने की माँग किया !सुशासन बाबू सुशासन लागू कर जनता को दिखाए !

14 मध्य विद्यालयाें में नये सत्र से शुरू होगी नौवीं-दसवीं की पढ़ाई 
►पालीगंज,
►फतुहां,
►बिहटा,
►पुनपुन,
►धनरूआ
►दनियावां के हैं !ज्यादातर विद्यालय संवाददाता, पटनानये सत्र 2016-17 से पटना जिला के 14 मध्य विद्यालयों में नौवीं-दसवीं की पढ़ाई शुरू हो जायेगी





पालीगंज‬ क्षेत्र के खिडिमोड‬ थाने के मुंगिला गाँव में दो महा दलित परिवार के आपसी रंजिश में सुखिन्दर बिन्द के खलिहान में रखे छह बीघे खेत की धान की फसल को पडोसियो ने आपराधिक घटनायों को अंजाम देते हुए आग लगाकर जलाकर पुरी तरह नष्ट कर दिया !




वहीँ इस घटना के विरोध करने ओर सुखनिंदर बिन्द व उसके परिवार के माँ ,बहन व पत्नी जिसमे रूनती देवी ,सरस्वती देवि ,तिलेसरी देवी ,मालों देवी समेत आधा दर्जन महिलाओ को लाठी डंडों से दर्जनों लोगों ने उल्टे दबंगई दिखाते हुए मारपीट कर जख्मी कर दिया !
इन सभी लोगों की स्थानीय अनुमंडल अस्पताल में डाक्टरो के द्वारा ईलाज किया गया !वहीँ इस घटना की पीडिता पक्ष ने कलेस्वर बिन्द ,ईदल बिन्द 

►अर्जुन बिन्द ,
►बबलू कुमार ,
►विजय बिन्द ,
►सतीश बिन्द ,
►छोटू बिन्द
►रामलखन बिन्द ,
रामकली देवी समेत दर्जनों पुरूष व महिलाओ पर खिडिमोड थाने में प्राथमिकी दर्ज़ करवाया है !साथ ही पीडिता पक्ष ने पुलिस पर खलिहान में धान जलाने की सूचना देने के बावजूद भी कारवाई नहीँ करने की आरोप लगाते हुए कहा की अगर समय पर कारवाई करती तो हमारे परिवार के लोगों के साथ मारपीट नहीँ करते वे लोग !मारपीट के बाद पुलिस सिर्फ खानापूर्ति ही करती नजर आ रही है !वही पुलिस जाँच में जुटी है !
वैसे जो भी हो ये घटना अपराधियों की बढ़ती मनोबल व पुलिस की बेअसर प्रभाव का ही दुष्परिणाम है !जिसके कारण आय दिन क्षेत्र में आपराधिक घटनाएँ बढ़ती हि जा रही है ?

पालीगंज अनुमंडल क्षेत्र वाहन लुटेरे का ‪‎शैरगाह‬ बन गया है !

बीती रात खिड़ी मोर थाने के इमामगंज बजार से संतोष कुमार बेदौलि गाँव निवासी के बुल्लौरौ 

" BR 01 PD -2477 " को ड्रावर के घर से सक्रिय शातिर गाड़ीलुटेरों ने लूट कार बड़े आसानी से फरार हो गए प्रतिदिन गाडियां पालीगंज से लूट की घटनाएँ हो रही है जिसे पुलिस रोकने पुरी तरह विफल रह रहि है !जिसके चलते आम जनता व वाहन भयभीत व आतंकित जीने को अभिशप्त है !


video




पालीगंज अनुमंडल के स्थानीय प्रखंड के दरियापूर गाँव स्थित राज्य सरकार के लगभग 50 एकड़ खेत मॆ आज अपराहन तीन बजे के करीब असमाजिक तत्वों हाई ब्रीड धान की कटी हुई खलिहान मॆ रखी फसल को आग लगा दिया , जिससे पुआल सेमेत लाखो की सरकारी सम्पति जलकर पुरी तरह नष्ट होगए !

जानकारी के अनुसार दरियापूर प्रेम के कई ग्रामीणों ने बताया की अचानक तीन बजे के आसपास कृषि फॉर्म व किसान भवन के पड़ खलिहान से आह की लपटें व धुंवा निकलने लगी ! इसे देखे कर ग्रामीणों आग बुझाने के लिए दौड़ पड़े व आग को बुझाने की अपनी ओर कोशिश करने लगे साथ कूछ युवकों ने अनुमंडल प्रशासन को दमकल गाड़ी खबर किया और करीब घंटे भर बाद एक दमकल गाड़ी आई और ग्रमीणो के साथ घण्टों मस्कत करने के बाद भी आग पर काबू नहीँ पाया गया ? हाँ दमकल की पानी जुरुर ख़त्म हो गई परन्तु आग नहीँ बुझी ? 3:00 बजे से शाम करीब सात बजे तक भी आग नहीँ बुझी आग इतनी प्रचंड थी की पुरी तरह से पुआल और धान जुलकर नष्ट होने की वजह से और लाखो की सम्पति राज्य सरकार की सम्पति संशाधनों की अभाव मॆ बरबाद हो गए !






जबकि गौरतलब बात है की मात्र अनुमंडल कार्यालय से दो किलोमीटर की दुरी पर कृषि फॉर्म परिसर मॆ हि प्रखंड कृषि कार्यालय अवस्थित है ! परन्तु न तो कृषि विभाग और न हि अनुमंडल कार्यालय से कोइ भी पदाधिकारी शाम सात बजे तक कोइ नही देखने आया !हा सात बजे बाद अनुमंडल कृषि पदाधिकारी देखने पहुँचे तबतक सबकुछ जलकर राख हो गए !





हमने जब उनसे इस सम्बंध मॆ पुछा की अबतक कोइ क्यों नही आया तो इसपर उन्होने कहाँ की हमे चार बजे सूचना मिली तो दानापुर से आते आते सात बजा गए !और इस घटना पर कहाँ यह बहूत बडी क्षति है अगर अनुमंडल प्रशासन के पास पर्याप्त संसाधन आग बुझाने के लिए होता तो जल्द हि आग बुझ गए होते और इतनी बडी क्षति नही होती ?





अनुमंडल मुख्यालय मॆ अग्निशमन दमकल गाड़ी मात्र दो है उसमें भास्कारा एक खरब हि रहता है !यहा अनुमंडल कहने को भर है न यहां ट्रज्दि ,न कृषि अनुमंडल कार्यालय है म जेल और नही अनुमंडल अग्निशमन कार्यालय है ?
काश अगर इस अनुमंडल मॆ पर्याप्त संसाधन होते तो आज इतनी बडी घटना नहीँ घटती ?इनसब चीजों के लिए कोण जिम्मदार है ! इसकी जवाबदेही कोण लेगा जिला या अनुमंडल प्रशासन 

About Author

{twitter#https://twitter.com/paliganjtimes} {google-plus#https://plus.google.com/108023997769411835514/posts} {youtube#http://youtube.com/paliganjtimes}

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget