पालीगंज चुनाव प्रचार के आखिरी दौर

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की मतदान के चुनाव प्रचार के आखरी दौर में पहुच चूका है, सभी मतदाताओ को अपनी ओर आकर्शित करने के लिए जी-तोड़ प्रयास करने में लगे है, बिहार चुनावी विश्लेषण सबसे पालीगंज अनुमंडल मुख्यालय के शहरी सिट पालीगंज-निरखपुर पंचायत को करते है,क्योकि यह सिट काफी महत्वपूर्ण व अपने अपने आप में विशेष स्थान रखता क्योकि.... 



प्रबुद्ध व जागरूक मतदाताओं की तादात ज्यदा माने जाते है, इस कारण मतदाताओं की अस्पस्ट रुझान भी जानना काफी कठिन होता है, क्योकि लोग खुलकर किसी विशेष के पक्ष में नही आते,


[ads-post]
जिला परिष्द क्षेत्र संख्या 16 की बात करे तो मुख्य मुकाबला
  • अरविंद कुमार कुस्वाहा,
  • धर्मेन्द्र कुमार यादव,
  • शिवकुमार सिंह(मुखिया),
  • राकेश कुस्वाहा,
  • महानद कुमार,
समेत (12) उम्मीदवारो में मुख्य मुकाबला इन्ही में से होने की सम्भावना दिख रही है,
मुखिया से कुल  ( 18 ) उम्मीदवरो में 
  • चिन्ता देवी  ( कृष्णा प्रसाद ),
  • महरून निशा ( पूर्व मुखिया गोरख जी),
  • ज्योति गुप्ता ( रिंटीकू कुमार ),
  • शोभा कश्यप  ( सुरेश कश्यप ),
  • मजबुन निशा  ( परवेज आलम ),
निशि सिन्हा के बीच कटे की मुकाबले होंने की उम्मीदे है,यह मतदाताओ की अस्पस्ट रुझान किसी उम्मीदवार विशेष के पक्ष में झुकता नही दिखाई दे रहा है,इसलिए बहुकोणीय मुकाबले की स्थिति बनती दिख रही है, 
  • सरपंच से कुल ( 6 ) उम्मीदवार
मुख्य मुकाबला पूर्व सरपंच शहीद रामनाथ प्रसाद की पत्नी उर्मिला देवी और पिछली चुनाव में दूसरे स्थान पर रहे मुन्ना कुमार की पत्नी सुषमा कुमारी के बिच मुख्यमुकबला होने की उम्मीदे है, जिसमे मुकाबले को त्रिकोणात्मक बंनाने की कोशिश में लगी है, रूबी देवी पति अरुण कुमार राणा की है, 

पंचायत समिति सदस्य के लिए कुल ( 12 ) उम्मीदवारों में से रम्भा सिंह सामाजिक कार्यकर्ता व जुझरु छवि के धनी पति राजकिशोर सिंह उर्फ़ राही जी, और आसमा खातुन ( पति पुट्टू मिया ) और पूर्व पंचायत समिति गायत्री देवी के बीच रोचक व संघर्ष पूर्ण मुकाबले होने के आसार दिख रहे है, जिसमे रम्भा सिंह और आसमा खातुन के बिच सीधे मुकाबले की तस्वीर उभरती दिखाई दे रही है,

रम्भा सिंह अपनी दावेदारी ठोकते हुए मतदाताओ के बिच अपनी सुलझे होने के साथ साथ शिक्षित व शिक्षा को महत्व देते हुए, अपनी दावेदारी को मजबूत आधार बनाते हुए, कहे रही मेरी सबसे पहले प्राथमिकता है, एक स्वछ समाज के नव निर्माण के साथ भ्रस्टाचार मुक्त वतावरण तैयार करने आलावा सबको साथ न्याय करुँगी के नारे देते हुए अपनी सभी वर्गो के बीच गहरी पैठ व सबसे मिल रहे जन समर्थन व मतदातऔ से जीत की भरोसा रखती हुई,सबसे आगे दिखाई देती नजर आ रही है,

जैसे जैसे मतदान के दिन नजदीक आते जाएंगे चुनावी गणित बनते बिगड़ते दिखाई देंगे,आखरी समय तक जिला पार्षद, मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति सदस्य के साथ वार्ड व् पंच के उम्मीदवार भी अपनी सभी तागत झोकते हुए दिखाई देते हुए नजर आ रहे है,
What do you say ?

Post a comment

Please share your thoughts...

Note: only a member of this blog may post a comment.

About Author

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.