Paliganj Times

.
Latest Post

पालीगंज : डीएम कुमार रवि के निर्देश पर पालीगंज प्रखंड के 'डीहपाली, निवासी अंबिका चौधरी पर गुरुवार की देर शाम प्राथमिकी दर्ज की गई.

अंबिका चौधरी के पुत्र अनिल कुमार की शादी समारोह में 50 से अधिक लोग एकत्रित हुए थे, इस मामले में उन पर यह कार्रवाई की गई है.



आरोप ये है...कि 'शादी समारोह में 50 से अधिक व्यक्तियों को शामिल होने तथा प्रोटोकॉल मानक के तहत मास्क का प्रयोग नहीं करने, सोशल डिस्टेंस मेंटेन नहीं करने तथा कोरोना संक्रमण फैलाने की आशंका थी.

उक्त आरोप के तहत बीडीओ पालीगंज चिरंजीवी पांडे ने पालीगंज थाने में अंबिका चौधरी पर प्राथमिकी दर्ज कराई है.अंबिका चौधरी के पुत्र स्व.अनिल कुमार का 15 जून के आयोजित शादी समारोह में भीड़ - भाड़ इकट्ठा कर प्रोटोकॉल मानक का उल्लंघन किया गया तथा कोरोना संक्रमण फैलाने में भूमिका निभाई गई.

'डीहपाली, शादी समारोह में शामिल 14 कोरोना पॉजिटिव पूरी तरह से स्वस्थ होकर अपने-अपने घर लौट गए. अनुमंडल प्रषासन और चिकित्सा कर्मियों ने बेहतर स्वास्थ्य की शुभकामनाओं के साथ सभी को विदा किया.एक महिला रामझरी देवी (65) का इलाज 'NMCH, में चल रहा है. वहीं अभी भी 97 संक्रमित बिहटा आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं, इस बात की जानकारी स्वास्थ्य प्रबंधक प्राजीत कुमार तिवारी ने दी है.





source 

पालीगंज डीहपाली शादी समारोह में शामिल 14 कोरोना पॉजिटिव पूरी तरह से स्वस्थ होकर अपने-अपने घर लौट गए. अनुमंडल प्रषासन और चिकित्सा कर्मियों ने बेहतर स्वास्थ्य की शुभकामनाओं के साथ सभी को विदा किया.



रामझरी देवी (65) का इलाज N.M.C.H में चल रहा है, वहीं अभी भी 97 संक्रमित Bihta Isolation Ward में भर्ती हैं. इस बात की जानकारी स्वास्थ्य प्रबंधक प्राजीत कुमार तिवारी ने दी है.

पालीगंज 15 जून को डीहपाली में हुए शादी समारोह में सभी लोग किसी न किसी रूप में शामिल हुए थे. शादी के एक दिन बाद ही दूल्हे की मौत हो गई थी.

कोरोना वायरस से हुए संक्रमण की आशंका को देखते हुए 19 जून को शादी समारोह में शामिल होने वाले नगर बाजार व डीहपाली गांव के 105 लोगों का सैंपल जिला से आई विशेष टीम ने लिया था. उनमें 15 लोग पॉजिटिव पाए गए थे. 22 जून को सभी संक्रमितों को मसौढ़ी अनुमंडल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया गया था.

एसडीओ सुरेंद्र कुमार ने अनुमंडल क्षेत्र में कार्यरत सभी चिकित्सकों, कर्मियों सहित अनुमंडल व प्रखंड प्रषासन की टीम को शुभकामना व बधाई देते हुए कहा कि जान की परवाह किए बिना दिन-रात पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ निःस्वार्थ भाव से आमजनों की सेवा में जुटे हुए चिकित्सक और कर्मी ही असली कोरोना योद्धा हैं.  

पालीगंज में शादी समारोह में भाग लेने गए 111 लोगों में कोरोना का संक्रमण होने के बाद अब जांच शुरू हो गई है. करीब 200 लोगों से पूछताछ की जाएगी.


15 जून को डीहपाली निवासी अनिल कुमार की शादी होनी थी. 15 जून को बारात नौबतपुर गई और 16 जून को बारात लौटी. 17 जून को दूल्हा अनिल कुमार का देहांत हो गया. प्रारंभिक जांच में जानकारी मिली है, दूल्हे की गुरुग्राम (गुड़गांव) में ही तबीयत खराब हो गई थी. तथा उसी स्थिति में उसकी शादी कराई गई थी. यहां संक्रमित लोगों में 29 महिलाएं और 6 बच्चे भी शामिल हैं.


पालीगंज एसडीओ का कहना है, कि बगैर कोरोना जांच दूल्हे का अंतिम संस्कार क्यों कर दिया गया, इस संबंध में भी घर वाले से पूछताछ की जाएगी. यह भी जांच की जा रही है. कि खाना बनाने वाला रसोइया और सब्जी सप्लाई करने वाला व्यापारी इसकी चपेट में कैसे आ गए.

हालांकि, पीड़ितों में किसी की हालत गंभीर नहीं है, लेकिन 6 बच्चों पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है, क्योंकि उन्हें इस बीमारी से ज्यादा खतरा है.


जिला प्रशासन का कहना है, कि शादी विवाह के लिए अधिकतम 50 लोगों को ही भाग लेने की अनुमति दी जा रही है. इसके लिए संबंधित एसडीओ के यहां आवेदन अनिवार्य है. वर और वधू पक्ष को 50 लोगों के शामिल होने का शपथपत्र भी देना है. पालीगंज शादी समारोह में 50 से अधिक लोग कैसे भाग लिए, इस संबंध में लड़का और लड़की पक्ष के लोगों को प्रशासन नोटिस देगा.




source


  • पालीगंज के अलग-अलग आठ मोहल्लों को सील कर दिया गया है.
  • शादी समारोह में भाग लेने वाले कुल 111 लोगों में कोरोना का संक्रमण.
  • शादी समारोह के एक दिन बाद ही दूल्हे की मौत. 
  • डीएम कुमार रवि भी ने जांच के आदेश 

पालीगंज में आयोजित एक शादी समारोह में भाग लेने वाले कुल 111 लोगों में कोरोना का संक्रमण पाए जाने के बाद डीएम कुमार रवि भी ने जांच के आदेश दे दिये हैं, पालीगंज प्रखंड के डीहपाली का है जहां अंबिका प्रसाद चौधरी के बेटे अनिल कुमार के शादी समारोह में शामिल होने वाले कई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

जयमाला के दौरान की तस्वीर। विवाह के दो दिन बाद ही दूल्हे की मौत हो गई.

प्रशासन द्वारा की गई छानबीन में पता चला है कि 15 जून को डीहपाली निवासी अनिल कुमार की शादी होनी थी. 15 जून को बारात नौबतपुर गई और 16 जून को बारात लौटी. 17 जून को दूल्हा अनिल कुमार का देहांत हो गया.

पालीगंज एसडीओ के नेतृत्व में गठित जांच टीम यह पता लगाएगी कि शादी समारोह में 50 से ज्यादा लोग कैसे शामिल हुए. इस मामले में दूल्हा और दूल्हन पक्ष के लोगों से भी पूछताछ की जाएगी.

पालीगंज के अलग-अलग आठ मोहल्लों को सील कर दिया गया है.

शादी समारोह के लिए अधिकतम 50 लोगों को शामिल होने की इजाजत दी गई थी. शादी समारोह के एक दिन बाद ही दूल्हे की मौत हो गई थी, हालांकि उसकी कोरोना जांच नहीं हो पाई थी.


शादी समारोह में भाग लेने वाले कुल 111 लोगों में कोरोना का संक्रमण मिल चुके हैं.प्रशासन यह पता लगाने में जुट गया है कि इतनी बड़ी संख्या में लोगों ने कैसे इसमें भाग लिया. सोशल डिस्टेंसिंग का क्यों नहीं पालन हुआ? इस मामले में बराती और घरवालों से पूछताछ होगी.

कोरोना संक्रमण के वर्तमान दौर में अधिकतम 50 व्यक्ति ही किसी सामाजिक समारोह में भाग ले सकते हैं. साथ ही समारोह में सोशल डिस्टेंस के रूप में 2 गज की दूरी मेंटेन करने, मास्क का अनिवार्य प्रयोग करने आदि सुनिश्चित करना अनिवार्य है. डीएम ने कहा कि अगर शादी समारोह में मानक का उल्लंघन पाया गया तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

एम्बुलेंस से कोरोना संक्रमितों को आइसोलेशन के लिए ले जाते स्वास्थ्यकर्मी

पालीगंज के आठ मोहल्लों को कंटनेमेंट जोन घोषित किया गया है. यहां सभी तरह की गतिविधि पर प्रतिबंध लागू रहेगा. सभी मोहल्ले सील किए जा रहे हैं. ये मोहल्ले हैं. डीहपाली.
  1. मीठाकुआं 
  2. बाबा बोरिंग रोड 
  3. पुरानी बाजार 
  4. बीबीपुर 
  5. महाबलीपुर, मेरा और खपुरा.




पालीगंज के 'डीहपाली, गांव में हुए शादी समारोह से निकली कोरोना पॉजिटिव सोमवार को इस पॉजिटिव चेन से एक साथ 79 कोरोना संक्रमित मिले, समारोह में शामिल 369 लोगों की जांच में 79 संक्रमित पाए गए हैं. जबकि 31 पहले संक्रमित हो चुके हैं.


पालीगंज "डीहपाली

इस समारोह में शामिल हुए 111 लोग अब तक संक्रमित मिल चुके हैं. मसौढ़ी में मिले संक्रमित रिटायर्ड शिक्षक भी इसी शादी समारोह से जुड़े हैं. दूल्हे की शादी के दूसरे दिन ही मौत हो चुकी है.

पालीगंज बाजार और आसपास के गांवों के लोग भी दहशत में हैं,यह शादी 15 जून को हुई थी, समारोह के एक दिन बाद ही 17 जून को दूल्हे की मौत हो गई थी. हालांकि दूल्हे की कोरोना जांच नहीं हो पाई थी. उसके बाद बारातियों की जांच शुरू हुई,

पहले चरण में 9 कोरोना पॉजिटिव मिले 22 जून को 15 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसके बाद 4 चरणों में 369 लोगों के सैंपल लिये गए, जिनमें 79 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

सोमवार को मिले सभी संक्रमितों को बिहटा स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. नगर बाजार से सटे डीहपाली व खपुरा के अलावा बाबा बोरिंग रोड व मीठा कुआं मोहल्ले को कंटेनमेंट जोन में तब्दील कर दिया गया है. इनके घर से निकलने पर पाबंदी लगा दी गई है. मोहल्ले में सिर्फ स्वास्थ्य विभाग के लोग जा सकते हैं. बीडीओ चिरंजीव पांडेय ने बताया कि मोहल्ले को सेनेटाइज कराने का काम शुरू कर दिया गया है.




source

पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में भारतीय सेनाओं के साथ हिंसक झड़प के बाद चीन को सैन्य मोर्चे पर करारा जवाब दिया गया. उसके खिलाफ मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है, भारत सरकार ने 59 चाइनीज मोबाइल एप पर बैन - टिक टॉक, यूसी ब्राउजर भी शामिल है.






इन ऐप्स पर बैन लगाया गया

इनसे देश की सुरक्षा और एकता को भी खतरा था, इसी वजह से इन्हें बैन करने का फैसला लिया गया.


  • पालीगंज में अबतक कोरोना के 8 केस हो गए हैं.
  • 69 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था, जिनमें एक युवक कोरोना पॉजिटिव निकला.
  • जिला प्रशासन ने युवक को अस्पताल में भर्ती कराया.


बिहार के पालीगंज में एक युवक की हुई Covid-19 Coronavirus Positive निकला पूरे गांव के लोगों को जिला प्रशासन ने होम क्वारंटीन में रहने का निर्देश दे दिया. इस युवक के साथ ही पालीगंज में अबतक कोरोना के 8 केस हो गए हैं.

पालीगंज में एक युवक की हुई Covid-19 कोरोना पॉजिटिव पूरा गांव हुआ होम क्वारंटीन

जब ग्रामीणों को खबर मिली कि उनके गांव का ही एक 28 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव निकला है. तो गांव में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में जिला स्वास्थ्य विभाग की टीम दलबल के साथ गांव पहुंची. युवक को पहले कब्जे में लिया और फिर युवक के परिजनों के सैंपल जांच के लिए लेते हुए उन्हें होम क्वांरटीन में रहने का निर्देश दे दिया.

और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने गांव के लोगों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन में रहने का निर्देश दिया है. मामला पालीगंज प्रखंड के दरियापुर प्रेम गांव का है.


स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों ने ग्रामीणों को जागरूक करने के ख्याल से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव को लेकर कई तरह का निर्देश दिया. सभी लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने, 14 दिन तक घरों में रहकर क्वारंटीन के नियमों का पालन करने को कहा गया.

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की माने तो Covid-19 Coronavirus Positive युवक को बेहतर इलाज के लिए सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए विशेष एम्बुलेंस से मसौढ़ी भेज दिया गया है.


अस्पताल के रिपोर्ट के अनुसार 16 जून को पालीगंज से 69 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें एक Covid-19 Coronavirus Positive दरियापुर प्रेम का है, पूरे गांव को सैनिटाइज करवा दिया गया है. आज मिले मरीज को मिलाकर अभी तक पालीगंज में कुल 8 कोरोना के पॉजिटिव केस हो गए हैं.




News Source 

About Author

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.